माओवादियों के गढ़ में पहुंचे गृह मंत्री शर्मा

0
24

जगदलपुर 10 मार्च . छत्तीसगढ़ में एक बार फिर माओवादियों और सरकार के बीच चर्चा की बाते सामने आने लगी है। प्रदेश सरकार नक्सलियों से चर्चा करने और चर्चा से विचारधारा को खत्म करने की पहल शुरू की है। इन सभी बातों के बाद लेकर छत्तीसगढ़ सरकार और माओवादी नेताओं के बयानों का दौर लगभग जारी है। पूर्व में छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम व गृहमंत्री विजय शर्मा ने नक्सलियों से विडियो कॉल पर भी चर्चा की बात कही थी। जिसके बाद प्रेस नोट जारी करते हुए नक्सलियों की दण्डकारण्य स्पेशल ज़ोनल कमेटी के प्रवक्ता ने सरकार की सभी शर्तों के साथ सरकार से वार्ता करने की बात कही है।  छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम विजय शर्मा बस्तर दौरे पर पहुंचे हुए थे। जहां शर्मा ने उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा ने सरकार की तरफ से वर्चुअल वार्ता की बात कही थी। उपमुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि हमारे पत्र के बाद पत्र जारी करते हुए चर्चा की बात कहा है। इसके साथ ही कहा कि कुछ युवा है जो दिग्भ्रमित है, बाबजूद सरकार हर परिस्थिति में नक्सलियों से वार्ता को तैयार है। सरकार की मंशा साफ है। गांव गांव सड़क, बिजली, स्कूल, अस्पताल पहुँचे। लोगो को पीने का साफ पानी मिले, हम लोगों की आम जरूरतों को पूरा करने में लगे हुए हैं।

 मीडिया से चर्चा करते हुए शर्मा ने कहा कि इन इलाकों में भाजपा नेताओ की सिलसिले वार हत्या की जारी है। जिसको लेकर उन्हें जरूरत के हिसाब से सुरक्षा मुहैया कराई गई है। इंटिलिजेन्स इनपुट के आधार पर सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी। शर्मा ने कहा कि सुरक्षा के मामले में सरकार भाजपा-कांग्रेस में भेद नही करेगी, जिसे सुरक्षा मिलनी चाहिए, उसे जरूर मिलेगी।

माह के पहले सप्ताह में दो भाजपा नेताओं की हत्या और इससे उपजे तनावपूर्ण हालात के बीच डिप्टी सीएम शर्मा का बीजापुर प्रवास अपने नेताओं की सुरक्षा के साथ चुनावी दृष्टिकोण से भी काफी अहम माना जा रहा है। माना जा रहा कि हत्यायों के बीच उप मुख्यमंत्री का बीजापुर प्रवास डरे सहमे भाजपा नेताओं में ऊर्जावर्धन के अलावा नक्सलियों के खिलाफ आने वाले दिनों बड़े एक्शन प्लान का संकेत भी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here