छत्तीसगढ़ सरकार के जन हितैषी फैसलों की पहुंच दूरस्थ अंचल तक-विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा परिवारों में जागी आगे बढ़ने की ललक

0
137

करीम

रायपुर, 08 मई  छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित जन हितैषी फैसलों और कार्यक्रम के कुशल क्रियान्वयन से आम आदमी सहित दूरस्थ अंचल के लोगों को इसका सीधा-सीधा लाभ मिलने लगा है। यहीं वजह है कि प्रदेश के विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा परिवार के लोगों में भी अब आगे बढ़ने की ललक जागी है।
यह वाक्या आज भेंट-मुलाकात अभियान के तहत मुंगेली जिले के अंतर्गत लोरमी विधानसभा के ग्राम खुड़िया में देखने को मिला, जहां मुंगेली जिले के युवाओं और यहां निवासरत विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा परिवार के युवाओं और हितग्राहियों ने छत्तीसगढ़ सरकार की नीतियों की तारीफ की। युवाओं ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से सीधा संवाद कर कहा कि सरकार की लोक कल्याणकारी नीतियों के बेहतर क्रियान्वयन से आर्थिक, सामाजिक और शैक्षणिक रूप से हम जैसे पिछड़े समाज में भी आगे बढ़ने की ललक जागी है।
दरअसल मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अपने प्रदेशव्यापी भेट-मुलाकात कार्यक्रम के सिलसिले मे आज लोरमी विधानसभा क्षेत्र के ग्राम खुड़िया पहुँचे थे। उन्होंने जैविविधता पार्क मे भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की प्रतिमा पर मल्यार्पण के बाद छत्तीसगढ़ शासन के विकासमूलक प्रदर्शनी का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने वहां कौशल प्रशिक्षण अंतर्गत ट्रेनिंग ले रहे बैगा हितग्राहियों के बारे में फीडबैक लिया। इस दौरान बताया गया कि आदिवासी विकास विभाग के केन्द्रीय क्षेत्रीय योजना के माध्यम से लाइवलीहुड कॉलेज द्वारा 87 बैगा युवाओं को कंप्यूटर ट्रेनिंग, रेशम धागाकरण का प्रशिक्षण, बम्बू शिल्प एवं इलेक्ट्रीशियन का प्रशिक्षण देकर स्वरोजगार एवं रोजगार प्रदाय किया गया।इस दौरान कंप्यूटर ट्रेनिंग अंतर्गत 08 बैगा हितग्राहियों को प्रमाण पत्र वितरण किया गया। मुंगेली जिले के 16 बैगा शिक्षित बेरोजगार युवाओं को शिक्षा विभाग द्वारा नौकरी दिया गया। मुख्यमंत्री महतारी दुलार योजना अंतर्गत कोरोना महामारी में अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को भविष्य को सवारने के लिए राज्य शासन ने इस योजना में मुंगेली जिले के 3 बच्चो को स्वामी आत्मानंद स्कूल में प्रवेश दिया गया है। सामुदायिक पोषण पुनर्वास केंद्र अंतर्गत कुपोषित बच्चो के सेहत सुधार के लिए शासन की इस योजना के माध्यम से जिले के सुदूर वनांचल रहवासी बैगा बच्चों को कुपोषण मुक्त करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा खुड़िया सेक्टर के 100 बैगा बच्चों को स्नेह संबल कार्यक्रम द्वारा कुपोषण मुक्त किया गया है।
मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल न इस अवसर पर जिले के 5 विभिन्न मछुआ पालन समितियों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदाय किया। कार्यक्रम में स्क्रीन के माध्यम से शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति एवं नवाचार की प्रदर्शनी लगायी गई थी। इसमें अचानकमार टाइगर रिज़र्व फ्लेक्स एवं स्टैंडी के माध्यम से टाइगर रिज़र्व में संचालित चारागाह विकास योजना, नरवा विकास योजना, गिद्ध संरक्षण योजना का जीवंत प्रदर्शन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here