बस्तर में पर्यटन की अपार संभावना YHAI

0
259
जगदलपुर / बस्तर जिला में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं।आज भी बहुत सारे ऐसे क्षेत्र हैं जो साधारण पर्यटकों की जानकारी एवं पहुंच से दूर हैं। प्राकृतिक और नैसर्गिक सौंदर्यता से बस्तर परिपूर्ण है। इतने अधिक प्राकृतिक सौंदर्यता और विविधता से आच्छादित बस्तर को विश्व पर्यटन के मानचित्र पर अच्छे से प्रस्तुत करने की आवश्यकता है। इस दिशा में इंटरनेशनल यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ने काम करना प्रारंभ कर दिया है। इंटरनेशनल यूथ हॉस्टल एसोसिएशन पर्यटन की दिशा में विश्व स्तर पर अपनी अलग ही पहचान बना रखी है। संपूर्ण भारत वर्ष के बहुत सारे प्रदेश एवं जिलों में यूथ हॉस्टल उल्लेखनीय कार्य कर रहा है।
        पर्यटन में रुचि रखने वाले लोग यूथ हॉस्टल के सदस्य बनकर शासन द्वारा विशेष रियायत का लाभ लेते हुए संपूर्ण भारत के साथ-साथ विश्व में भी यात्रा करते हैं। इसकी एक तदर्थ इकाई बस्तर में बनकर कार्य प्रारंभ कर रही है। इसके सदस्य अनछुए बस्तर में पर्यटन की संभावनाओं को तलाश रहे हैं। स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर मिलें, पर्यटकों को मूलभूत सुविधा मिले इस दिशा में कार्य करने का सदस्यों के द्वारा प्रयास किया जाता है। स्थानीय प्रशासन से भी बात कर इस दिशा में सहयोग मांगा जाता है।
           छत्तीसगढ़ शासन के पर्यटन विभाग ने भी यूथ हॉस्टल एसोसिएशन को इस दिशा में बहुत सारे रियायत देने की व्यवस्था की है। बस्तर के एडहाक यूनिट में अभी सदस्यता अभियान चल रहा है इच्छुक व्यक्ति इसके सदस्य बनकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटन के क्षेत्र में सुविधाओं का लाभ लेकर रियायत प्राप्त कर सकते हैं।
       यूनिट को स्थाई यूनिट में बदलने के लिए नियमानुसार प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए एक आवश्यक बैठक निजी होटल में की गई थी। इस बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने चर्चा की। स्थाई यूनिट बनाने के लिए नियमानुसार सारी प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरी की जाएगी।
             बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि शीघ्र ही स्टेट चेयरमैन श्री संदीप सेठ एवं अन्य पदाधिकारियों को बस्तर के तदर्थ यूनिट के द्वारा आमंत्रित किया जाएगा। एवं आगे की कार्रवाई के बारे में मार्गदर्शन मांगा जाएगा। इस बैठक में तदर्थ यूनिट के पूर्व चेयरमैन शंकर लाल गुप्ता जी एवं उनकी टीम के द्वारा किए गए अब तक के कार्य की उपस्थित लोगों ने भरपूर सराहना की। इसके साथ ही वर्तमान में तदर्थ यूनिट के नए चेयरमैन अनिल लुंकड़ जी एवं सचिव एवं मीडिया प्रभारीविधु शेखर झा एवं अन्य पदाधिकारियों के द्वारा आगामी कार्यकाल को सुव्यवस्थित रूप से चलाने के लिए शुभकामनाएं दीं। सभी ने यह उम्मीद जताई कि जिस तरीके से तदर्थ यूनिट कार्य कर रहा है उससे नियमानुसार बस्तर को स्थाई यूनिट के रूप में मान्यता दी जा सकती है। इस बैठक में बस्तर यूनिट के चेयरमैन अनिल लुंकड़, बिलासपुर यूनिट के चेयरमैन एवं बस्तर यूनिट के प्रमुख मार्गदर्शक संदीप मुरारका सचिव एवं मीडिया प्रभारी विधु शेखर झा, रेखा पारिया, शंकर लाल गुप्ता ,शिव रतन खत्री ,अनिल अग्रवाल, योगेश गर्ग, डॉक्टर के एल आजाद, प्रणीत  अग्रवाल, डॉक्टर प्रेरणा अग्रवाल, ममता गर्ग के साथ नए सदस्य के रूप में नरेश कुशवाहा, सुभाष श्रीवास्तव एवं रविंद्र नाथ विश्वास प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here