नक्सली जंगल छोड़ मैदानी इलाकों में आ रहें है। डॉ. रमन सिंह

0
290

जगदलपुर /पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने बस्तर में बढ़ रहे नक्सलवाद पर चिंता व्यक्त की है. बस्तर में भाजपा भवन में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए, डॉ. सिंह ने भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली वर्तमान सरकार की इस खतरे पर अंकुश लगाने में विफलता के लिए आलोचना की।

ज्ञात हो कि डॉ. सिंह की टिप्पणी उस वक्त आई है जब हाल ही सीआरपीएफ की स्थापना दिवस पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि बस्तर से नक्सली सिमट रहें है उनका जल्द ही खात्मा हो जाएगा। सीआरपीएफ स्थापना दिवस पर बोलते हुए शाह ने क्षेत्र में नक्सलवाद से निपटने में सुरक्षा बलों के प्रयासों की सराहना की थी।

डॉ रमन विहिप के हिन्दुराष्ट्र बनाने के विषय पर पूछे गए सवाल को यह कहकर टाल दिया कि यह बीजेपी की वार्ता है

डॉ रमन सिंह ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में क्षेत्र में नक्सली हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं। उन्होंने क्षेत्र में विकास के पहल की कमी के लिए प्रदेश की भूपेश सरकार की आलोचना की। डॉ. सिंह की टिप्पणियों ने क्षेत्र में राजनीतिक विवाद खड़ा कर दिया है। डॉ. सिंह अपनी बात पर अड़े रहे और मांग की कि मौजूदा सरकार इस मुद्दे के समाधान के लिए ठोस कदम उठाए।
बस्तर में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और क्षेत्र में नक्सलवाद का बढ़ना चिंता का कारण बना हुआ है। यह देखा जाना बाकी है कि सरकार इन आरोपों का क्या जवाब देती है और समस्या से निपटने के लिए क्या कदम उठाती है। आज यहां भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित करते हुए रमन सिंह ने प्रदेश सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए । कहा मौजूदा सरकार बड़े नेताओं को खुश करने का ही काम कर रही है। इधर नक्सली जंगल छोड़ मैदानी इलाकों में आ रहें है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here