बच्चों की आईडी की चपेट में आने से मौत

0
17

बीजापुर, 13 मई।  माओवादियों के द्वारा लगाये गये आईडी की चपेट में आने से इन्द्रावती नदी पार के ओड़सापारा ग्राम बोड़गा में 02 मासूम नाबालिग बच्चों की मौत हो गई।
पुलिस प्रेस नोट के अनुसार   थाना भैरमगढ़ क्षेत्र के ओड़सापारा, बोड़गा गांव में माओवादियों के द्वारा जवानों को निशाना बनाने  के लिए  आईडी  लगाया था , तेंदूपत्ता तुड़ाई के दौरान आईडी ब्लास्ट होने से ग्राम बोड़गा निवासी लक्ष्मण ओयाम पिता मुन्ना ओयाम, उम्र लगभग 13 वर्ष एवं बोटी ओयाम पिता कमलू ओयाम, उम्र लगभग 11 वर्ष की हुई मौके पर ही मौत हो गई।

परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों बच्चे तेंदूपत्ता पलटने का काम करने जाते थे । रोजाना रोजाना की तरह 12 तारीख को भी गए हुए थे और तेंदूपत्ता पलटाया वह घर वापसी के दौरान उन्हें चमकता हुआ कुछ सामान खेत पर दिखा जिसे वह लेकर निकले पथर से फोड़ने की कोशिश करते रहे । अचानक से वह फट गया और दोनों बच्चों की वहीं मौत हो गई परिजनों को जब इस बात की सूचना लगी हो तत्काल वहां पहुंचे और एक दिन बाद 13 तारीख को वह शव लेकर भैरमगढ़ पहुंचे जहां देर शाम होने की वजह से पोस्टमार्टम नहीं हो पाया 14 तारीख को पोस्टमार्टम होना और परिवार की तरफ से एफआईआर  दर्ज करने के बाद की जा रही  है।

सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोढ़ी ने बताया कि दोनों बच्चे तेंदूपत्ता पलटा कर वापस लौट के दौरान खेत में उसे चमकता हुआ सामान दिखाएं पत्थर से फोड़ने लगे और वह अचानक फट गया दोनों की मौत हो गई उस समय वहां साथ में 20 बच्चे मौजूद थे और यह आज का नहीं है कई दिनों पहले राजे ऑयम नाम की एक महिला को पुलिस ने घर पर गोली मारी थी उसी दिन रमेश के घर पर भी यही यूसीबीएल फेंका गया था जिसे कई दिनों तक ग्रामीणों ने टोकनी से ढक कर रखा हुआ था और कई जगह गांव में यह यूसीबीएल आज भी पड़ा हुआ है ।मैं आज गांव गई हुई थी जहां मैं यह सब चीज देखी मैं जिला प्रशासन से दरख्वास्त करती हूं कि उच्च स्तरीय जांच कमेटी से इसकी जांच कराई जाए यह यूजीवीएल पुलिस का है और मुठभेड़ के दौरान कई जगहों पर फेंक दिया गया था। जो आज भी पड़ा हुआ है कई जगहों पर अगर इसे नहीं हटाया गया तो और भी गाँव मे अप्रिय घटना घट सकती हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here