मणिपुर मामले मे विरोध जताते हुए सर्व आदिवासी समाज ने किया महाबंध

0
135
करीम
जगदलपुर, 24 जुलाई। मणिपुर की घटना को लेकर आज पूरा बस्तर संभाग बंद रहा। इसका असर सात जिलों के अंदरूनी इलाकों में देखने को मिला जिसमें भारी संख्या में महिलाओं ने भी भाग लिया। सर्व आदिवासी समाज ने आज बस्तर महा बंद का आव्हान किया था जिसमें बस्तर संभाग में बंद का असर पूर्णत: रहा। कहीं कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। बस्तर सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष प्रकाश ठाकुर ने बताया कि दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर, कोंडागांव जिला मुख्यालय सहित अंदरूनी इलाका भी बंद रहा है। उन्होंने बताया कि इसके पहले  2 दिन पूर्व ही कैंडल मार्च निकालकर इसका कड़ा विरोध जताया था और आज  बस्तर महा बंद का ऐलान किया हैं। बंद को देखते हुए आज जगदलपुर शहर के सभी प्रतिष्ठान ने पूरी तरह से बंद रही। वंही सड़कों पर निकले सर्व आदिवासी समाज के लोगों ने छोटे दुकानों को भी बंद कराया है। रैली की शक्ल में पूरे शहर में भ्रमण करते हुए देश के प्रधानमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।  विदित हो कि मणिपुर की घटना में महिला के साथ जो घटना घटी है। उसको लेकर आदिवासी समाज काफी आक्रोश है। और इसको लेकर बस्तर चेंबर ऑफ कॉमर्स ने बंद को समर्थन भी दिया हैं।  वंही बंद का समर्थन देते हुए 2:00 बजे तक बंद कर रखने की बात कही हैं।  वंही सर्व आदिवासी समाज ने आज बंद का समर्थन करने की अपील की हैं। इस बंद का असर जगदलपुर के अलावा कोण्डागांव बीजापुर सुकमा  बीजापुर दंतेवाड़ा  और कांकेर भी पूरी तरह से बंद दिखा। इस महा बंद को देखते हुए जगदलपुर शहर की सड़के पूरी तरह सुनसान नजर आई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here