तुरेनार में संचालित रीपा की आर्थिक गतिविधियों से नोडल अधिकारी श्री गौरव सिंह ने जताई संतुष्टि

0
196

 

करीम

जगदलपुर 26 मई  प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना महात्मा गांधी ग्रामीण औद्योगिक पार्क (रीपा) के नोडल अधिकारी एवं पंचायत विभाग के संयुक्त सचिव श्री गौरव सिंह 25 मई गुरुवार को बस्तर जिले के विकासखण्ड जगदलपुर के ग्राम तुरेनार स्थित रीपा के अधोसंरचना की सराहना करते हुए कहा कि निर्माण क्षेत्र में प्रथम ऐसा रीपा है जिसमें सर्व सुविधा युक्त जैसे पानी, बिजली, आवागमन सुविधा प्रत्येक कार्य मशीन हेतु प्रयाप्त शेड का आकार एवं आधारभूत संरचना उपयुक्त पाया। उन्होंने रीपा में चल रहे आजीविका गतिविधियों का भी जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने महिला समूहों के द्वारा संचालित मशरूम स्पॉन इकाई आयस्टर एक बटन मशरूम, हल्दी, मिर्ची, धनिया, आचार, कोदो-कुटकी, रागी, तिथुर, काजु शिरोजी इमली कैडी, दोना पत्तल, पेपर बैग, नानयुमन बैग आईल मिल, राईस मिल दाल मिल, रेशम धागाकरण, प्राकृतिक गोबर पेन्ट पोहा इकाई, मुर्गीपालन (अण्डा उत्पादन), अगरबत्ती एवं धुपबत्ती निर्माण इकाई, गुड़ी कला निजी उद्यमी-मछली एवं मुर्गी दाना, बेकरी इकाई का निरीक्षण कर कार्यों की सराहना की।
इस अवसर पर श्री गौरव सिंह ने मशरूम इकाई में जाकर समूह की महिलाओं द्वारा किए जा रहे कार्य का अवलोकन किया एवं उत्पादन विक्रय एवं मार्केटिंग की प्रक्रिया की जानकारी ली। श्री सिंह ने तुरेनार में संचालित रीपा में निर्मित 20 शेड के 33 प्रकार की गतिविधियों में समूह की महिलाओं से चर्चा कर उनकी आय में हुई वृद्धि के संबंध में भी चर्चा की। साथ ही महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित भी किए। महिलाओं से चर्चा में उन्होंने पाया कि प्रत्येक शेड में संचालित गतिविधियों से थोक उत्पादन बहुत अच्छी मात्रा एवं गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है जिससे की आस-पास के ग्रामीण लघु व्यवसायी को सामान रीपा से ले जाकर अच्छी आमदनी प्राप्त कर रहे है साथ ही संचालन कर रहे महिलाओं को उचित आमदनी प्राप्त हो रही है समूह की दीदियों ने बताया कि प्रति व्यक्ति 6-10 हजार रुपये मासिक आय प्राप्त हो जाती है इससे समूहों के महिलाओं के चेहरे पर खुशी एवं उनके जीवन की स्थिति में काफी सुधार आया है। रीपा से ग्राम तुरेनार एवं आसपास के ग्रामों का भौतिक एवं आर्थिक विकास हो रहा है। श्री गौरव सिंह ने युवाओं के लिए निःशुल्क वाई-फाई की सुविधा भी रीपा में उपलब्ध होने से खुशी व्यक्त की और महिलाओं के द्वारा निर्मित उत्पाद सामग्री का भी क्रय किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here