श्रमिकों को सम्मान देने के लिए मनाया जा रहा है बोरे-बासी तिहार:- संसदीय सचिव रेखचंद जैन

0
208
करीम
जगदलपुर, 01 मई .अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के अवसर पर जगदलपुर शहर के बोधघाट स्थित जीरो वेस्ट सेंटर में बोरे-बासी तिहार का आयोजन किया गया। तिहार में संसदीय सचिव श्री रेखचन्द जैन, इंद्रावती बेसिन विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री राजीव शर्मा, महापौर श्रीमती सफीरा साहू, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती कविता साहू, गणमान्य पार्षद, सीईओ जिला पंचायत श्री प्रकाश सर्वे, कांगेर वेली राष्ट्रीय उद्यान के निदेशक श्री धम्मशील गणवीर, अपर कलेक्टर श्री हरेश मंडावी, अति. पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी, सेंटर में काम करने वाले श्रमिक महिला स्व सहायता समूह के सदस्य ने बोरे बासी खाकर प्रदेश के श्रमिकों का सम्मान किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव श्री रेखचन्द जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री महोदय ने अंतरराष्ट्रीय श्रम दिवस में श्रमिकों को सम्मान देते हुए छत्तीसगढ़ीया संस्कृति का हिस्सा रहे बोरे-बासी को जोड़कर विश्व पटल पर नाम किया है। सरकार ने श्रमिकों को सम्मान के लिए छत्तीसगढ़ की प्राचीन परम्परा बोरे बासी को जोड़ा है। श्रम से जुड़े सभी साथी हमेशा बोरे बासी का सेवन करते रहे है। बोरे बासी पर कई शोध किया गया, इसमें सभी प्रकार के पोषक तत्व के साथ साथ गर्मी से बचाव का बेहतर साधन है। इंद्रावती बेसिन विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि श्रम दिवस के अवसर पर प्रदेश में मुख्यमंत्री की पहल पर हमारी संस्कृति, परम्परा को पुनः जागृत किया जा रहा है। श्रमिकों-मजदूरों के सम्मान, हक-अधिकार को संरक्षण देने के लिए बोरे बासी तिहार मनाया जा रहा है इसके लिए सभी को बधाई।
  कार्यक्रम को महापौर सफीरा साहू ने कहा कि मुख्यमंत्री ने विलोपित हो रहे छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक विरासत को पुनः जागृत करने का कार्य किया है। सेंटर में काम करने वाली महिलाओं और शहर की सफाई करने में स्वच्छता दीदियों आवश्यक सहयोग करती है उनके सम्मान में इस सेंटर में बोरे बासी तिहार मनाया जा रहा है। सभापति कविता साहू ने भी श्रमिकों के सम्मान में आयोजित बोरे बासी तिहार की बधाई देते हुए कार्यक्रम को संबोधित की।
प्रभारी कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ श्री प्रकाश सर्वे ने कहा कि श्रम के सम्मान में इस पर्व का आयोजन गत वर्ष से किया जा रहा है। अंतरास्ट्रीय स्तर पर श्रमिकों के हितों की संरक्षण के लिए नियमों, संगठन का गठन किया गया है। भारत वर्ष भी श्रमिकों के सहयोग से नए भारत का निर्माण किया जा रहा है। प्रदेश सरकार ने श्रमिकों के सम्मान के लिए छतीसगढिया संस्कृति को जोड़ कर बोरे बासी तिहार का स्वरुप दिया है। कार्यक्रम में अतिथियों ने स्वच्छता दीदियों को हैंड ग्लाब का भी वितरण किया और सभी उपस्थित अतिथियों तथा स्वच्छता दीदियों ने बोरे बासी का सेवन किया।
महापौर ने स्वच्छता दीदियों को वितरण किया बोरे बासी
कार्यक्रम में महापौर सफीरा साहू ने जीरो वेस्ट सेंटर में काम करने वाली महिला समूह की सदस्यों को बोरे-बासी का वितरण कर उनके श्रम का सम्मान की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here