लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन द्वारा अकादमिक सहयोग जिला एवं राज्य स्तरीय कार्यक्रमों की वार्षिक समीक्षा

0
174

जगदलपुर 15 अप्रैल जिला एवं राज्य स्तरीय कार्यक्रमों की वार्षिक समीक्षा बैठक का आयोजन दिनांक 12 अप्रैल 2023 को होटल चंपा बाग, जगदलपुर में किया गया था। इस समीक्षा बैठक का आयोजन लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन के द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य में किए जा रहे अकादमिक सहयोग के परिपेक्ष्य में की गई थी। इस समीक्षा बैठक में एससीईआरटी रायपुर, दुर्ग, बालोद, बस्तर एवं सुकमा जिले के प्रमुख शिक्षा अधिकारियों ने भाग लिया। समीक्षा के दौरान चारों जिलों प्रतिनिधियों ने लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन के द्वारा राज्य एवं जिले में किए जा रहे कार्यों जैसे कि अकादमिक सामाग्री निर्माण,जिला स्त्रोत समूह के निर्माण एवं प्रशिक्षण, शिक्षक प्रशिक्षण, संकुल अकादमिक समन्वयकों की कार्यशाला एवं स्कूल विजिट, संस्था के द्वारा किए जा रहे जिले एवं राज्यों के संबंध में चर्चा की गई। साथ ही साथ लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन की राज्य प्रमुख सुश्री मंजु गर्ग ने संस्था के राज्य में किए जा रहे शैक्षणिक कार्यों की के संबंध में चर्चा करते हुए आगामी योजना के संबंध में बात रखा।  यह समीक्षा बैठक FLN मिशन को ध्यान में रखकर आयोजित की गई थी जिससे की अन्य जिले भी एक दूसरे के प्रयासों को जान सके एक दूसरे से सीख सके और चूंकि राज्य मे अकादमिक बेहतरी की जिम्मेदारीएससीईआरटी की भी है तो एक टीम के रूप में मिशन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक मंच में संवाद किया जा सके इसलिए इस समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया था। समीक्षा के दौरान सभी जिले के अधिकारियों ने लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन के द्वारा किए जा रहे शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की प्रसंशा की एवं आगामी सत्र के लिए साथ राज्य के साथ मिलकर शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर प्रयासों की योजना पर बात की गई।

एससीईआरटी से श्री डेकेश्वर वर्मा, NGOs एवं बहुभाषी शिक्षाप्रभारी. एस. सी. ई. बार. टी., रायपुर, छत्तीसगढ़ने समीक्षा बैठक के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि एक साझी रणनीति के तहत राज्य में FLN मिशन का क्रियान्वयन किया जा रहा है जिसमें कि लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन की भूमिका काफ़ी महत्वपूर्ण है। श्रीमति निशी भाम्बरी, एस. सी. ई. आर. टी. रायपुर, छत्तीसगढ़ ने अपनी बात रखते हुए कहा कि एससीईआरटी और लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन मिलकर FLN मिशन के लक्ष्य को पाने के लिए प्रयासरत है।  समीक्षा में शामिल संयुक्त संचालक (शिक्षा) बस्तर श्री आर. पी.आदित्य ने बस्तर में चल रहे बहुभाषी शिक्षा की तारीफ की साथ ही साथ जिले मेंFLN मिशन के बेहतर क्रियान्वयन के लिए सुझाव दिए।एससीईआरटी से श्री सुनील मिश्रा ने कहा कि हमें राज्य के  शत प्रतिशत बच्चों को बच्चों को सीखने में मदद करनी होगी।  डायट बस्तर की प्राचार्या डाक्टर सुषमा झा ने कहा कि डायट बस्तर की ओर से जिले में अकादमिक बेहतरी के लिए संस्था के साथ शिक्षक प्रशिक्षण, सामग्री निर्माण आदि सभी कार्यों में सहयोग दिया जा रहा है। समग्र से डीएमसी श्री अखिलेश मिश्रा ने बस्तर के शैक्षणिक परिस्थियों के संबंध में एससीईआरटी एवं अन्य जिलों के शिक्षा अधिकारियों को अवगत कराया एवं बस्तर में शिक्षा की बेहतरी के लिए  और भी प्रयास किए जाने पर जोर दिया।  समीक्षा के दौरान दुर्ग, बालोद, बस्तर एवं सुकमा के शिक्षा अधिकारियों ने अपने अपने जिले में चल रहे FLN मिशन के के अंतर्गत चल रहे कार्यों को बताया जिससे एक जिसे के बेहतर प्रयासों को दूसरे जिले को सीखने और समझने का मौका मिला एवं राज्य के ओर से फीडबैक दिए गए।

डायट से  स्टेनली जॉन,  सुभाष श्रीवास्तव एवं समग्र से  गणेश तिवारी ने भी अपने अनुभवों को समीक्षा के दौरान रखा।   इस समीक्षा बैठक में  सुरेन्द्र पाण्डेय डी.एम.सी एवं  विवेक शर्मा ए.पी.सी. जिला दुर्ग।  अनुराग त्रिवेदी डी.एम.सी एवं  जी.एल. सुरश्याम. ए.पी.सी. जिला बालोद। रजनीश कुमार सिंह, ए.पी.सी. एवं ची वसीम खान बी.आर.सी.सी., जिला- सुकमा।  सुनील बागवान एवं मधुलिका एवं लैंग्वेज एवं लर्निंग फाउंडेशन की टीम शामिल थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here