राज्य सरकार सभी वर्ग सचिवालयों के साथ-साथ अन्य मध्यवर्ती वर्गों की प्रगति के लिए भी हरसंभव प्रयास कर रही है: मुख्यमंत्री श्री निरंजनपुर

0
148

करीम

रायपुर, 28 अगस्त .मुख्यमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा है कि राज्य सरकार सभी वर्गों के साथ अन्य निचले वर्गों की प्रगति के लिए भी हरसंभव प्रयास कर रही है। शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के लिए संचालित कार्यक्रम की बात हो या न्याय परिभाषा की इन परिभाषा का लाभ सभी वर्ग के लोगों के साथ अन्य वर्ग के लोगों को भी मिल रहा है। राज्य सरकार द्वारा तारामंडल जनजाति के छात्रों के लिए विभिन्न प्रदेशों के मुख्यालयों और जिला मुख्यालयों में अन्य जनजातियों के छात्रों के लिए नामांकन शुरू करने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री आज राजधानी रायपुर के रावण भट्ट मैदान में प्रादेशिक एक देवता ”ओबीसी महासम्मेलन” को मूर्तिमान कर रहे थे। महासम्मेलन में अन्य पिछड़ा वर्ग समाज ने नॉटी के संबंध में चर्चा के लिए राज्यपाल सर से समय की मांग मुख्यमंत्री श्री बघेल से की। मुख्यमंत्री ने राज्यपाल सर को इस संबंध में पत्र में दी बात कही।

छत्तीसगढ़ असंतुष्ट महासभा और छत्तीसगढ़ ढाल वर्ग कल्याण संघ द्वारा संयुक्त रूप से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के गढ़वाल छत्तीसगढ़ ढाल वर्ग कल्याण संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री ओम प्रकाश साहू ने की। कार्यक्रम में अल्पसंख्यक श्री दीपक बैज, छत्तीसगढ़ सामूहिक महासभा के सदस्य श्री साहूकार भंडारी जिसमें शामिल समाज के अनेक सदस्य एवं प्रतिनिधि बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि जमीन के मामले में पहले किसी सरकार ने इतनी जमीन नहीं रखी है, कोई भी समाज यह नहीं कह सकता कि उसे जमीन नहीं मिलेगी। संप्रदाय बड़ा समाज है तो सबसे ज्यादा जमीन आप लोगों को मिली है। साथ ही भवन निर्माण के लिए भी आवश्यक है राशि अनुसार। राजधानी में सभी अस्पताल रायपुर शहर में स्थित हैं, तो व्यवहारिकता को देखते हुए आप लोग बड़े पैमाने पर सुविधा के पास के धर्मशालाओं के लिए जमीन देखें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार हमेशा फ़्लॉस क्लास के साथ है। सबसे अधिक ऋण का लाभ सीमांत वर्ग के साथियों को ही मिला है क्योंकि सबसे अधिक ऋण का लाभ सीमांत वर्ग के साथियों को ही मिला है क्योंकि सबसे अधिक ऋण का लाभ सीमांत वर्ग के लोग खेती से जुड़े हुए हैं, समर्थन मूल्य पर धान के अनुपात का लाभ भी आपको सबसे अधिक मिला है, लेकिन वह राजीव गांधी किसान न्याय योजना की बात हो , रक मिलेट्स कोदो, कुटकी की बात हो, ट्यूबवेल पर किसानों को बिजली पर 12 हजार से 14 हजार करोड़ की छूट इन 5 सालों में दी गई और घर में बिजली पर भी छूट दी जा रही है। हमारी सरकार लगातार शिक्षा स्वास्थ्य पर काम कर रही है। छत्तीसगढ़ के हितों के लिए राज्य सरकार निरंतर प्रयासरत है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने महासम्मेलन में कहा था कि मुझे वह दिन भी याद है जब 2013 में आप सभी रथयात्रा में
हजारों की संख्या में पैदल रथ रैली में आये थे और इंदौर स्टेडियम के बगल में बड़ी सभा का आयोजन हुआ था। अन्य वर्ग का संगठन बहुत मजबूत है। संगठन द्वारा हमेशा प्रभावशाली तरीकों से अपनी मांग रखी जाती है। अन्य मूल वर्ग के प्रमुख रूप से 27 प्रतिशत पूर्वोत्तर की मांग रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे विधानसभा में एक और दो दिसंबर 2022 को विशेष सत्र पुराने नवीन उपकरणों को मंजूरी दे दी गई है और गवर्नर साहब के पास भेज दिया गया है। यह गवर्नर गवर्नर के पास है। इस राक्षसी जनजाति में 32 प्रतिशत, फ्लोरिडा वर्ग में 13 प्रतिशत, अन्य जनजाति वर्ग में 27 प्रतिशत और ईडब्ल्यूएस में 4 प्रतिशत प्रतिशत का प्रतिशत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में 2011 के बाद से कोई गड़बड़ नहीं हुई है। आवास का मामला आया सामने। जनसंख्या वृद्धि के साथ परिवार भी चाहिए और आवास की आवश्यकता भी है। मेरे प्रधानमंत्री को अक्षरशः लिखा होना चाहिए। असली नहीं हुई तो हमारी सरकार ने इकोनॉमिक सर्वेक्षक की रिपोर्ट आ गई है और उसका परीक्षण चल रहा है।

मुख्यमंत्री ने समाज की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि एनबीएसी डीसी के कार्यालय को रेजिडेंट की जगह जगदलपुर में रखा जाना चाहिए। प्रदेश में कार्यालय होगा तो इससे सभी को लाभ होगा, राज्य को व्यवसाय से लाभ होगा, अभी तेलंगाना जा रहा है, वह प्रदेश को मिलेगा। भर्ती में भी छत्तीसगढ़ के बच्चों को मिलेगा लाभ। मुख्यमंत्री ने कहा कि शेयर बाजार और सार्वजनिक उद्योग का उद्घाटन हो रहा है, ऐसी स्थिति में किसी को भी नवीनता का लाभ नहीं मिलेगा। अभी भी स्टॉकहोम में नगरनार का स्टील प्लांट तैयार नहीं हुआ है, उसकी भी तैयारी चल रही है। एयरपोर्ट का विज्ञापन जारी है। बालको का नामकरण हो गया। वन अधिकार पट्टा के संबंध में उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में सिर्फ संरक्षण को वन अधिकार पट्टा दिया गया था। हमारी सरकार पर 2005 से जो भी व्यक्ति, बेचारा वो कोई भी समाज के हो, अगर 2005 से जुड़े हैं, तो उन्हें लीज पर दे दिया गया।

छत्तीसगढ़ चतुर्थ श्रेणी कल्याण संघ के प्रदेश अध्यक्ष ओम श्री प्रकाश भंडार और छत्तीसगढ़ विधानसभा के सदस्य श्री साहू साहू ने विस्तार से समाज की विभिन्नताओं की ओर मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here