नाबालिक छात्रा के साथ दुष्कर्म

0
151
करीम
जगदलपुर 25 जुलाई। सुकमा जिला के एर्राबोर के पोटाकेबिन आवासीय परिसर में पहली कक्षा की 6 वर्षीय नाबालिक छात्रा के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया हैं। मामला के प्रकाश में आने के बाद आनन फानन में पुलिस प्रशासन हरकत में आया और मामले को लेकर जांच शुरू कर दिया गया हैं। जिसमे पुलिस ने अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 09/23 धारा 456,363,376, क,ख 324 भादवि,4,5(ड़) 6 पोस्को एक्ट का प्रकरण दर्ज कर,पीडि़ता का मेडिकल मुलायजा करवाया गया है।  वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री केदार कश्यप ने आरोप लगाया कि आरोपी के परविार प्रदेश के मंत्री कवासी लखमा के खासमखास हैं । राजनीतिक दलों व सर्व आदिवासी ने घटना क्रम को निंदनीय और मानवता को शर्मशार करना बताया हैं। इस दौरान सर्व आदिवासी समाज द्वारा एराबोर के सामुदायिक भवन में बैठक किया गया हैं। सर्व  आदिवासी समाज ने बताया की  मामले को लेकर बाकी बच्चो से पूरे घटनाक्रम को लेकर जानकारी लिया गया जिसमे पोटाकेबिन अधीक्षिका का पूरे घटनाक्रम की की जानकारी थी,जिसके बाद पीडि़त परिवार पर दबाव बनाकर मामले को दबाने का प्रयास किया गया। जो इस पूरे कृत्य पर अधीक्षिका की संलिप्तता स्पष्ट करता हैं। जिसको लेकर राजनीतिक दलों व सर्व आदिवासी समाज द्वारा अधीक्षिका के खिलाफ एफआईआर करने की बात कही गईं हैं।  सुकमा के पुलिस अधीक्षक  किरण चव्हाण ने बताया कि शनिवार रात्रि को जिले के एर्राबोर थाना अंतर्गत पोटाकेबिन में अध्यनरत नाबालिग छात्रा के साथ अज्ञात आरोपी द्वारा दुष्कर्म करने की शिकायत प्राप्त हुई है। पोटाकेबिन अध्यक्ष की रिपोर्ट पर थाना एर्राबोर में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 09/23 धारा 456, 363, 376 क, ख 324 भादवि, 4,5 (ड़) 6 पोस्को एक्ट का प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया गया है साथ ही पीडि़ता का मेडिकल मुलायजा करवाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए त्वरित निराकरण हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोंटा गौरव मंडल की अध्यक्षता में श्रीमती पारुल खण्डेलवाल उप पुलिस अधीक्षक बाल अपराध अन्वेषण शाखा  सहित 08 सदस्यीय समिति गठित की गई है, बाद अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री केदार कश्यप ने कहा कि दुष्कर्म मामले में भारतीय जनता पार्टी पांच सदस्यीय टीम का गठन किया है जो घटना स्थल पर जाकर अपनी रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष को सौंपेंगे। श्री कश्यप ने आज यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए आरोप लगाया है कि जो आरोपी अज्ञात बताया जा रहा है, वह प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा के खासम-खास हैं और आरोपी को बचाने की कोशिश की जा रही है। इस जांच टीम में पूर्व मंत्री लता उसेंडी, रंजना साहू, सावित्री राजपुत, ओजस्वी मंडावी और सुधीर पांडे शामिल हैं। जांच रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष अरूण साव को सौंपा जायेगा।  विदित हो कि 15 दिनों के भीतर सुकमा जिले के दोरनापाल में भी एक नाबालिक बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here