जिले को मोतियाबिंद मुक्त बनाने चल रहे अभियान के तहत 563 मरीजों का हुआ ऑपरेशन

0
140

करीम

जगदलपुर 14 जुलाई।  बस्तर जिले को मोतियाबिंद मुक्त करने के लिए चलाए जाने वाले अभियान का असर इन दिनों बड़े पैमाने पर दिख रहा है। सातों विकासखंड में 15 जुलाई तक सर्वे में लगभग 1392 से अधिक लोगों की पुष्टिकरण किया गया है जिनमें 563 मरीजों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया है। अभियान में एक ओर जहां मरीज मिल रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजों का ऑपरेशन कर इस बीमारी से निजात दिलाई जाकर उनके जीवन में उजियारा लाई जा रही है।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री विजय दयाराम के. के निर्देशानुसार जिले में सघन मोतियाबिंद मुक्त अभियान कार्यक्रम के तहत 15 मई 2023 से शुरू किया गया है। जिसमें सभी विकासखंड के संभावित मरीजों का सर्वे कर 3512 मरीजों की जांच कर 1392 की पुष्टि मोतियाबिंद मरीजों के रूप की गई है। सर्वे कार्य अभी भी सतत जारी है। अभियान के दौरान मिले मरीजों में से 563 तथा सर्वे के पहले 252 सहित अब तक 815 मरीजों का ऑपरेशन कर इस बीमारी से निजात दिलाई जा चुकी है।
सीएमएचओ डॉ आर के चतुर्वेदी ने बताया कि कलेक्टर श्री विजय दयाराम के. की पहल पर जिले को जल्द से जल्द मोतियाबिंद मुक्त करने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है। अभियान में शामिल हर मरीज की जांच के लिए डोर-टू-डोर अभियान चलाया जा रहा है तो वहीं ऑपरेशन जल्द से जल्द हो इसके लिए मेडिकल काॅलेज अस्पताल और महारानी हास्पिटल के चिकित्सकों को जिम्मेदारी दी गई है।
सर्वे में मोतियाबिंद के मरीजों में सबसे अधिक अधिक संख्या जगदलपुर विकासखण्ड के मिले है। जानकारी के मुताबिक अब तक मिले मरीजों में जगदलपुर में 388, दरभा में 251, बास्तानार में 176, बकावंड में 171, लोहांडीगुड़ा में 146, बस्तर में 138, तोकापाल में 122 हैं। जिनमें ऑपरेशन को लेकर जिले का बस्तर ब्लाक ऐसे ब्लाक है जहां पर अब तक मिले सभी मरीजों का आपरेशन हो चुका है। इसके अलावा बकावंड में 99, बास्तानार में 32, लोहंडीगुड़ा में 37, दरभा में 71, तोकापाल में 63 और जगदलपुर (नानगुर) के 123 मरीजों का आपरेशन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here