अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस में बस्तर क्षेत्र की वीर- वीरांगनाओं को सम्मान

0
37

जगदलपुर,07 मार्च भारत के स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में अंग्रेजों की दमनकारी नीति, शोषण के विरूद्ध एवं जल, जंगल, जमीन की रक्षा के लिये बस्तर के आदिवासी समुदाय में आदिवासी जननायक एवं वीर-वीरांगनाओं हुए। इन्ही जननायकों एवं वीर-वीरांगनाओं पर आधारित बस्तर के मुक्ति संग्राम नामक बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण द्वारा वेब सीरीज तैयार की गई है। इसी वेब सीरीज का प्रथम अध्याय बस्तर एक स्त्री राज्यम है।
प्रारंभ से ही बस्तर स्त्रीराज्यम रहा है। पौराणिक काल से वर्तमान तक यहां की महिलाएं सशक्त रही हैं। बस्तर अंचल में महिलाओं की इसी सशक्त भागीदारी को मद्देनजर रखते हुए बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर बस्तर क्षेत्र के वीर-वीरांगनाओं को सम्मान देने के लिए बस्तर एक स्त्री राज्यम शीर्षक से बस्तर क्षेत्र की वीर-वीरांगनाओं पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म यू ट्यूब पर लॉन्च किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री के मंशानुसार बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर बस्तर संभाग के बहादुर शासिकाओं, वीर वीरांगनाओं को सम्मान सहित सादर श्रद्धांजलि देने के लिए एक संक्षिप्त लघु फिल्म का निर्माण प्राधिकरण द्वारा किया गया है। इस लघु फिल्म के माध्यम से बस्तर की गौरवमयी इतिहास को आम जन तक जानकारी पहुंचाने का प्रयास किया गया है।

बस्तर एक स्त्री राज्यम शीर्षक से बस्तर क्षेत्र की वीर-वीरांगनाओं पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फिल्म में महारानी प्रमिला देवी, राजकुमारी चमेली देवी, मासकदेवी, रमोतीन माड़िन की जीवनी का विवरण दिया गया है जिन्होंने अपनी जल, जंगल और जमीन के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here