जगदलपुर स्टेडियम का निर्माण कार्य लगभग तीन साल से रुका

0
105

अधूरा काम अधूरे वादों और सार्वजनिक सुरक्षा को लेकर बढ़ी चिंता

जगदलपुर, 20 नवम्बर .  जगदलपुर स्टेडियम, जिसे कभी एक अंतरराष्ट्रीय खेल स्थल के रूप में खूब प्रचार प्रसार हुआ । लोकल खेल प्रतियोगिताओं के लिए भी काफी नहीं है। पिछले तीन वर्षों से निर्माण कार्य अधूरा होने के कारण अधूरे वादों और अपर्याप्त बुनियादी ढांचे का नमूना है। स्थानीय निवासियों ने यहां कार्य की प्रगति और आवश्यक सुविधाओं की कमी के प्रति निराशा व्यक्त करते हुए आज के समय में इसे हर दृष्टिकोण से इसे अनुपयोगी बताया है।

अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम विकसित करने के जिला प्रशासन के शुरुआती वादों के बावजूद, जमीनी हकीकत कुछ और ही कहानी बयां करती है। स्टेडियम के पीछे की इमारतें, जिन्हें पूरा किया जाना था, अव्यवस्था की स्थिति में छोड़ दी गई हैं, निर्माण सामग्री अप्रयुक्त पड़ी हुई है। सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना साकार लेने में नाकामयाब है।

स्टेडियम के भीतर बुनियादी सुविधाओं की कमी चिंता का एक और कारण है। छोटे खेल आयोजनों में आगंतुकों और प्रतिभागियों ने पानी की सुविधा, शौचालय और वॉशरूम की अनुपस्थिति के बारे में शिकायतें उठाई हैं। स्टेडियम की बिगड़ती हालत और निर्माण कार्य के मलबे के कारण यह सुविधा सुबह की सैर के लिए अनुपयोगी हो गई है, जो कभी स्थानीय निवासियों के लिए एक लोकप्रिय गतिविधि थी।

इसके अलावा, स्टेडियम के अंदर जाने  के लिए शुल्क लेने के प्रशासन के फैसले ने जनता के असंतोष को बढ़ा दिया है। लोगों का कहना है न यहां सुविधा है न सुरक्षा । फिर शुल्क किस बात की?
असुविधा, और आवश्यक सेवाओं के अभाव के बावजूद, व्यक्तियों को प्रवेश के लिए भुगतान करना पड़ता है, जिससे समुदाय के बीच असंतोष और बढ़ जाता है।

हर शाम स्टेडियम परिसर में असामाजिक तत्वों के इकट्ठा होने की खबरों से सुरक्षा संबंधी चिंताएं भी सामने आई हैं। रखरखाव की कमी और उचित प्रकाश व्यवस्था की कमी ने एक ऐसा माहौल बना दिया है जहां सुरक्षा से समझौता किया जाता है।

स्थानीय अधिकारियों को अब जगदलपुर स्टेडियम के आसपास के मुद्दों को तुरंत हल करने के लिए बढ़ते दबाव बनाया जाना चाहिए। रुके हुए निर्माण को पुनर्जीवित करने, आवश्यक सुविधाएं प्रदान करने और स्टेडियम परिसर का उपयोग करने वालों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कार्य किए जाने की जरूरत है।  जैसे-जैसे अधूरे निर्माण और बिगड़ते हालात की खबरें फैलती जा रही हैं, निवासियों को उम्मीद है कि उनकी चिंताओं को सुना जाएगा और स्थिति को सुधारने के लिए तत्काल कदम उठाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here