नक्सली कमांडर हिड़मा के गांव

0
29

पूवर्ती गांव में सुरक्षा बलों ने युद्ध स्तर पर कैंप की स्थापना की इसके बाद आजादी के 75 साल बाद फहराया तिरंगा सुकमा धर्मेन्द्र सिंह एंकर – नक्सलियों की राजधानी कहे जाने वाले पुवर्ती गांव में सुरक्षाबलों ने सफलता पूर्वक कैंप स्थापित कर दिया हैं । पीएलजीए बटालियन का यह इलाका हैं। हार्डकोर नक्सली हिड़मा जो कि 27 से अधिक हमलों में शामिल रहा हैं वह इसी गांव का निवासी हैं सीसीएम हिड़मा, बटालियन कमांडर देवा सहित 100 से अधिक लोग इसी गांव से निकल कर नक्सल संगठन मौजूद हैं । टेकेलगुड़ा कैंप में कैंप स्थापित करने के बाद महज 15 दिन बाद पुवर्ती गांव में कैंप स्थापित किया गया ।

एसपी किरण चव्हाण, डीआईजी सीआरपीएफ अरविंद राय सहित एसटीएफ, डीआरजी, सीआरपीएफ, कोबरा सहित 1000 से अधिक जवान कैंप में मौजूद हैं । पुवर्ती में कैंप स्थापित करने के बाद इसे टेक्टिकल हेडक्वार्टर बनाया जा रहा हैं और यही से आने वाले दिनों में नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन तेज किए जायेंगे । पुवर्ती गांव में नक्सली स्मारक बना हुआ हैं जिसे सुरक्षाबलों ने ध्वस्त किया । साथ ही यहां पर नक्सलियों ने भी वार जोन बनाया था यहां रुककर नक्सली, सुरक्षाबलों के खिलाफ प्लान तैयार करते थे साथ ही यहां पर नक्सलियों ने खेती तक कर रखी जिसमें वो अपनी बटालियन के लिए सब्जी, फल व अन्य सामाग्री की पैदा वार करते थे । लेकिन अब यह इलाका पूरी तरह से सुरक्षाबलों के कब्जे में हैं । नक्सलियों की अघोषित राजधानी कही जाने वाली पूवर्ती गांव में सुरक्षा बलों ने युद्ध स्तर पर कैंप की स्थापना की इसके बाद आजादी के 75 साल बाद वहां तिरंगा फहराया गया बता दें कि केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार आने के बाद अंदरूनी इलाकों में नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज हुआ है और इसी के तहत नक्सलियों के बटालियन हेड रहे कुख्यात नक्सली कमांडर हिड़मा के गृह ग्राम में सुरक्षाबलों ने कैंप की स्थापना की जिसे नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान का टैक्टिकल हेडक्वार्टर बनाया जा रहा है जहां से नक्सलियों के खिलाफ बड़े अभियान लॉन्च किए जाएंगे और ऑपरेट किए जाएंगे मिली जानकारी के अनुसार पिछले 48 से घंटे से सुरक्षा बल के जवान वहां डेरा जमाए हुए हैं और इन 48 घंटे में सात बार जवानों का सामना नक्सलियों से हुआ और जवाबी कार्यवाही में नक्सली वापस लौट के सुरक्षा बलों ने पूवर्ती गांव को छावनी में तब्दील कर दिया है और नक्सली कमांडर हिड़मा के घर पर लगातार निगरानी बनाई गई है बता दें कि बीते दिनों छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री विजय शर्मा सिलगेर के दौरे पर थे जहां विजय शर्मा ने यह स्पष्ट कर दिया कि नक्सली आत्मसमर्पण कर दें या फिर आमने-सामने की लड़ाई को तैयार रहे बाईट 1किरण चौहाण एसपी सुकमा WT किरण चौहाण एसपी के साथ WT नक्सली कमांडर हिड़मा के घर के सामने पूवर्ती WT नक्सलियों का रेस्ट हाउस पूवर्ती WT-पूवर्ती में 75 वर्ष बाद फहराया तिरंगा पूवर्ती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here