बस्तर में फिल्मांकन नवा बिहान

0
136

करीम
जगदलपुर 01 जुलाई बस्तर की हसीन वादियों में फिल्मांकन की शुरुआत 1980 के पहले से शुरु हो गई थी। इस दौर में नूतन, डॉ. श्रीराम लागू, परीक्षित साहनी, आगा, साधुमेहर, दुलारी जैसे बंबइया स्टार कलाकारों के अभिनय से सजी फिल्म कस्तूरी की शूटिंग कांगेर वैली के कांगेरधारा के आसपास हुई थी। यह फिल्म पूरी हो कर सिनेमा हाल के पर्दे तक पहुंची। अपने विषय और प्रस्तुति के चलते इसे समीक्षकों ने स्वर्ण कमल तक दिलवाया। ख्वाजा अहमद अब्बास की फिल्म द नक्सलाइट की शूटिंग में भाग लेने उस दौर के अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती भी आए। चित्रकोट के इर्दगिर्द शूटिंग देखने के शौकीन साइकिलों से 40 किमी दूर जाया करते थे। हालांकि पर्दे पर कब पहुंची कब उतर गई इसकी जानकारी सीनियर बस्तरिया कलाकारों तक को याद नहीं। नानापाटेकर, भारतभूषण, दीप्ती नवल, सुरेश ओबेराय जैसे दिग्गज कलाकारों वाली फिल्म आज का महाभारत की शूटिंग बस्तर-उड़ीसा सरहद के चांदली गांव में हुई। मजदूर-मालिक के संघर्ष की पृष्ठभूमि वाली फिल्म भी पर्दे तक पहुंच नहीं पाई। जनवरी 2023 में नक्सलवाद को लेकर छत्तीसगढ़ी बोली में बनाई गई नवा बिहान न केवल पर्दे पर आई वरन इसमें स्थानीय रंगकर्मियों को अभिनय करता देखने स्थानीय दर्शक भी सिनेमा हाल तक पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here