नक्सली वारदात

0
1131

करीम

जगदलपुर, 01 छत्तीसगढ़ के दक्षिण बस्तर क्षेत्र में आज नक्सलियों ने आज एक यात्री बस को आग लगाया वहीं पुलिस नक्सली मुठभेड़ हुआ, इसके साथ ही एक पुल को भी विस्फोट कर उड़ा दिया गया जिससे 20 गांव का सपर्क जिला मुख्यालय बीजापुर से टूट गया।
दंतेवाड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रामकुमार बर्मन ने बताया कि बारसूर से नारायणपुर जानेे वाली बस को आज सबेरे मालेवाही घोटिया के बीच नक्सलियों ने यात्रियों को उतारकर बस में आग लगा दी।
उन्होंने बताया कि हाल ही प्रारंभ किया गया यात्री बस आज सुबह नारायणपु से बारसूर दंतेवाड़ा की ओर आ रही थी, मालेवाही घोटिया चैक के पास करीब 20 से 25 नक्सलियों ने बस को रोक कर आग लगा दी। सभी यात्री चालक परिचालक पास ही के मालेवाही केन्द्रीय सुरक्षा बल के केम्प पहुचें है.
घटना स्थल के लिये फोर्स रवाना किया गया है.नक्सलियों चालक परिचालक को  बारसूर से नारायणपुर रोड पर बस नही चलाने की चेतवानी दी है,मौके पर नक्सलियों ने बेनर पोस्टर भी टांगें हैं.घटना के वक्त करीब 30 यात्री सवार थे
इधर छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में आज नक्सलियों ने पुलिस गश्त पर बीजीएल से हमला किया। दोनों ओर से गोलीबारी हुई जिसमें किसी की हताहत होने की खबर नहीं है।
बीजापुर पुलिस अधीक्षक आंजनेय वैष्णव ने बताया कि आज सुबह गंगालूर थाना से केन्द्रीय सुरक्षा बल, छत्तीसगढ़ आम्र्स फोर्स तथा जिला रिजर्व पुलिस का एक दल तोड़का की ओर रवाना हुआ था। सावनार जंगल के पास घात लगाए नक्सलियों ने पुलिस पर बल पर बीजीएल बम से हमला किया, दोनों ओर से आधे घंटे तक गोलीबारी हुई किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।
कल देर शाम नक्सलियों ने गंगालूर मार्ग पर एक पुल को विस्फोट कर क्षतिग्रस्त कर दिया। श्री वैष्णव के  अनुसार जिला मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर गांगलूर मार्ग के किकलेर के पास बने पुलिया को नक्सिलयों ने बम विस्फोट कर उड़ा दिया जिससे 20 से अधिक गांव का संपर्क टूट गया है।
विदित हो कि बीजापुर गंगालूर मार्ग 1917 में निर्माण कराया गया था इस निर्माण कार्य के दौरान 15 से अधिक जवान शहीद हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here